सहकारिता विभाग

जिले के अंतर्गत सहकारिता विभाग के द्वारा सहकारिता के क्षेत्र में ग्रामीण साख को बढ़ावा देने हेतु विभिन्न समितियॉं जैसे मत्स्य, दूग्ध, वनोपज, खनिज, गृह निर्माण आदि समितियों का पंजीयन कराकर उनको सहकारिता के माध्यम से लाभांवित किया जाता है । जिले के सभी 86 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों में शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं का क्रियान्वन एवं नियंत्रण सहकारिता विभाग द्वारा किया जाता है जिसमें धान खरीदी, खाद – बीज वितरण, अल्पकालीन कृषि ऋण वितरण, जैसे महत्वपूर्ण कार्य किया जाता है ।